11.5 C
New York
Friday, September 30, 2022

Buy now

spot_img

मुख्यमंत्री कार्यालय, पंजाब मुख्यमंत्री द्वारा हरेक रजिस्टर्ड निर्माण कामगार को 3000 रुपए गुज़ारा भत्ता देने का ऐलान

चंडीगढ़, 13 मई:

कोविड की बन्दिशों के मद्देनज़र निर्माण कामगारों की आजीविका पाने में हुए नुकसान से पेश समस्याओं को घटाने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज निर्माण और अन्य निर्माण कामगार (बी.ओ.सी.डब्ल्यू) कल्याण बोर्ड के साथ रजिस्टर्ड सभी निर्माण कामगारों को तीन-तीन हज़ार रुपए गुज़ारा भत्ता/नगद सहायता देने का ऐलान किया है।

कैप्टन अमरिन्दर सिंह जो बोर्ड के चेयरमैन भी हैं, कहा कि 3000 रुपए का गुज़ारा भत्ता 1500-1500 रुपए की दो किश्तों में अदा किया जाएगा और पहली किश्त तुरंत जारी की जाएगी, जबकि दूसरी किश्त 15 जून, 2021 तक अदा की जाएगी।

यह जि़क्रयोग्य है कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने महामारी की पहली लहर के दौरान बीते साल भी संकट में डूबे निर्माण कामगारों के लिए इसी तरह की सहायता दी थी। उस मौके पर बोर्ड के साथ रजिस्टर्ड 2.92 लाख निर्माण कामगारों को 6000 रुपए के हिसाब से 174.31 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की गई थी।

जि़क्रयोग्य है कि बोर्ड के साथ राज्य भर में लगभग तीन लाख रजिस्टर्ड निर्माण कामगार हैं। कोविड मामलों में हाल ही में हुई वृद्धि से पैदा हुई मौजूदा स्थिति पर काबू पाने के लिए उठाए गए सख़्त कदमों और समय-समय जारी किए गए दिशा-निर्देशों के मद्देनजऱ इन निर्माण कामगारों की रोज़ी-रोटी पर बुरा असर पड़ा था। बहुत से स्थान पर चल रहे निर्माण प्रोजेक्टों का काम या तो रुक गया है या फिर अस्थायी तौर पर काम की रफ़्तार धीमी हो गई है, जिससे ऐसे कामगारों की आमदन और रोज़ी-रोटी पर बुरा असर पड़ा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वित्तीय सहायता देने का उद्देश्य इस कठिन समय में निर्माण कामगारों को तत्काल राहत मुहैया करवाना है

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,507FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles