Monday , September 28 2020
Breaking News

पंजाब में अब रोबोट करेंगे सीवरेज़ की सफ़ाई – रजि़या सुल्ताना

पंजाब में अब रोबोट करेंगे सीवरेज़ की सफ़ाई – रजि़या सुल्ताना
जि़ला श्री मुक्तसर साहिब में माघ के पहले दिन के अवसर पर होगी रोबोटिक मशीनों के द्वारा सीवरेज़ साफ़ करने के प्रोजैक्ट की शुरूआत
चंडीगढ़, 13 जनवरी:
पंजाब सरकार के जल सप्लाई और सेनिटेशन विभाग ने राज्य में सीवरेज़ की सफ़ाई मानव-रहित करने की बड़ी पहलकदमी के अंतर्गत आधुनिक तकनीक वाले रोबोट के साथ सीवरेज़ साफ़ करने के प्रोजैक्ट को अमलीजामा पहना दिया है। राज्य में अब रोबोट सीवरेज़ साफ़ किया करेंगे।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए जल सप्लाई और सेनिटेशन मंत्री श्रीमती रजिय़ा सुल्ताना ने आज यहाँ बताया कि सीवरेज़ की सफ़ाई रोबोट द्वारा करने के प्रोजैक्ट की औपचारिक शुरुआत जि़ला श्री मुक्तसर साहिब में माघ के पहले दिन के पवित्र त्योहार के अवसर पर किया जाएगा। श्रीमती सुल्ताना ने बताया कि पहले पड़ाव के अंतर्गत केरला की जेनरोबोटिक्स कंपनी द्वारा आधुनिक तकनीक द्वारा तैयार की गई रोबोटिक मशीन ‘‘बैंडीकूटो’’ जि़ला श्री मुक्तसर साहिब में सीवरेज़ की सफ़ाई का काम मानव रहित कर देगी जिससे सफ़ाई कर्मचारियों को गंभीर समस्याओं जैसे कि सीवरेज़ में उतरने के खतरे और ज़हरीली गैसों से होने वाले मानवीय स्वास्थ्य को नुकसान से बचाव होगा। इसके अलावा घंटों का काम बहुत कम समय में करना यकीनी बनाया जा सकेगा।
जल सप्लाई और सेनिटेशन मंत्री ने बताया कि इस मशीन के साथ गंदगी की (मैला) ढुलाई की समस्या, ज़हरीली गैसों और सीवरेज़ के पानी और कीचड़ से मानवीय शरीर को होने वाले नुकसान, इनफ़ैक्शन और भयानक बीमारियों से छुटकारा मिलने के साथ-साथ गंदगी की (मैला) ढुलाई की समस्या से भी पक्के तौर पर निजात मिलेगा। उन्होंने बताया कि इस विलक्षण कार्य से अब सफ़ाई कर्मचारियों और सीवर सफ़ाई के कार्य में लगे कर्मचारियों के स्वाभिमान में भी विस्तार होगा।
श्रीमती सुल्ताना ने बताया कि करीब 90 लाख रुपए की लागत वाली रोबोटिक तकनीक से लैस दो मशीनों के द्वारा श्री मुक्तसर साहिब में सीवर सफ़ाई का कार्य शरू करने से पंजाब, देश का सातवां ऐसा राज्य बन जायेगा जबकि जि़ला श्री मुक्तसर साहिब यह नवीनतम तकनीक अपनाने वाला राज्य का पहला जि़ला बनकर उभरेगा, जहाँ रोबोट से सीवरेज़ की सफ़ाई की जाती हो। उन्होंने बताया कि सीवरेज़ पाईपों में ज़हरीली गैस का पता लगाने के लिए सैंसर प्रणाली से लैस और कार्बन फाइबर बॉडी वाले कम भार वाले यह रोबोट वॉटरप्रूफ़ होंगे और पानी में गहराई तक जाकर काम कर सकेंगे। मानव की बाज़ूओं की तरह काम करने के सामथ्र्य वाले रोबोट को सफ़ाई कर्मचारी की सुविधा के अनुसार डिज़ाइन किया गया है। इन रोबोट्स को आसानी से चलाया जा सकता है।

About admin

Check Also

ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਵੱਲੋਂ ਖਟਕੜ ਕਲਾਂ ਦੇ ਸ਼ਹੀਦ ਭਗਤ ਸਿੰਘ ਮੈਮੋਰੀਅਲ ਦੇ ਰੱਖ-ਰਖਾਅ ਲਈ 50 ਲੱਖ ਰੁਪਏ ਦਾ ਐਲਾਨ ਮਹਾਨ ਸ਼ਹੀਦ ਦੇ 113ਵੇਂ ਜਨਮ ਦਿਨ ਉਤੇ ਸ਼ਹੀਦ-ਏ- ਆਜ਼ਮ ਨੂੰ ਸ਼ਰਧਾ ਦੇ ਫੁੱਲ ਭੇਟ ਕੀਤੇ

ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਵੱਲੋਂ ਖਟਕੜ ਕਲਾਂ ਦੇ ਸ਼ਹੀਦ ਭਗਤ ਸਿੰਘ ਮੈਮੋਰੀਅਲ ਦੇ ਰੱਖ-ਰਖਾਅ ਲਈ 50 ਲੱਖ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: