Subscribe Now

* You will receive the latest news and updates on your favorite celebrities!

Trending News

Blog Post

punjab

निकाह के लिए बालिग होना जरूरी नहीं:पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने कहा- युवा मुस्लिम लड़की को जीवनसाथी चुनने का हक; नाबालिग के निकाह को जायज ठहराया 

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने नाबालिग मुस्लिम लड़की के निकाह को जायज ठहराया है। कोर्ट ने कहा कि निकाह के लिए लड़की का बालिग होना जरूरी नहीं है। यदि लड़की युवा हो चुकी है, तो उसे अपना जीवनसाथी चुनने का अधिकार है। वह खुद यह तय कर सकती है कि उसे अपना जीवन किस के साथ बिताना है।

हाईकोर्ट ने बुधवार को एक मुस्लिम दंपती की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की। पंजाब के मोहाली में रहने वाले 36 साल के व्यक्ति ने जनवरी में 17 साल की नाबालिग लड़की से निकाह किया था। प्रेमी जोड़े के फैसले से उनके परिजन नाराज हैं। इस वजह से दंपती ने निकाह के बाद हाईकोर्ट से सुरक्षा की मांग की है।

दंपती ने कहा- नाराज परिजन से जान का खतरा
दंपती ने याचिका में कहा कि उन्होंने मुस्लिम रीति-रिवाज से निकाह किया है, लेकिन इसमें दोनों के परिवार की सहमति नहीं थी। शादी से नाराज दोनों परिवारों से उन्हें खतरा है। सुरक्षा के लिए उन्होंने मोहाली के SP से गुहार लगाई थी, लेकिन उन्होंने मदद नहीं की। मजबूरन उन्हें हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा।

हाईकोर्ट ने दंपती को सुरक्षा देने का निर्देश दिया
इधर, लड़की के घरवालों ने दलील दी थी कि लड़की बालिग नहीं है, ऐसे में उसकी शादी वैध न मानी जाए। लड़की के परिजन ने उसे उनके साथ भेजने की मांग की, लेकिन हाईकोर्ट ने कहा कि लड़की अपने पति के साथ रह सकती है। कोर्ट ने मोहाली के SSP को दंपती को सुरक्षा देने का आदेश भी दिया।

Related posts

punjab

ਕੇਜਰੀਵਾਲ ਵਲੋਂ ਖੇਤੀ ਕਾਨੂੰਨਾਂ ਦੀਆਂ ਆਨ ਰਿਕਾਰਡ ਤਾਰੀਫਾਂ ਕਰਨ ਤੋਂ ਪਤਾ ਲੱਗਦਾ ਹੈ ਕਿ ਆਮ ਆਦਮੀ ਪਾਰਟੀ ਕਿਸਾਨਾਂ ਪ੍ਰਤੀ ਕਿੰਨੀ ਕੁ ਹਮਦਰਦ ਹੈ- ਕੈਪਟਨ ਅਮਰਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਦਿੱਲੀ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਨੂੰ ਉਹਨਾਂ ਦੇ ਹੀ ਸ਼ਹਿਰ ਵਿਚ ਸੜਕਾਂ ਪੁੱਟਣ ਤੇ ਨਾਕਬੰਦੀ ਨੂੰ ਰੋਕਣ ਵਿਚ ਨਾਕਾਮ ਰਹਿਣ ‘ਤੇ ਸਵਾਲ ਕੀਤੇ 

Leave a Reply

Required fields are marked *