Subscribe Now

* You will receive the latest news and updates on your favorite celebrities!

Trending News

Blog Post

जेलों के बुनियादी ढांचो में बेमिसाल तबदीलियाँ; गैंगस्टरवाद के प्रति ज़ीरो सहनशीलता नीति अपनाई
punjab

जेलों के बुनियादी ढांचो में बेमिसाल तबदीलियाँ; गैंगस्टरवाद के प्रति ज़ीरो सहनशीलता नीति अपनाई 

चंडीगढ़, 29 अप्रैल:
‘पंजाब घर-घर रोजग़ार और कारोबार मिशन’ के अंतर्गत राज्य के नौजवानों को रोजग़ार के मौके मुहैया करवाने के लिए जेल विभाग में 43 सहायक सुपरीटेंडैंट नियुक्त किए गए। जेल मंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने आज यहाँ पंजाब सिविल सचिवालय स्थित कार्यालय में भर्ती किए इन सहायक सुपरीटेंडैंटों में से सांकेतिक तौर पर 4 सहायक सुपरीटेंडैंटों को नियुक्ति पत्र सौंपे।
स. रंधावा ने चुने गए जेल कर्मियों को अपनी ड्यूटी ईमानदारी और तनदेही से निभाने के लिए प्रेरित किया। कोविड बन्दिशों के चलते बाकी 39 उम्मीदवारों को अलग से नियुक्ति पत्र सौंप दिए गए।
जेल मंत्री ने आगे कहा कि जेल विभाग द्वारा राज्य की जेलों में बुनियादी ढांचो के विकास से बेमिसाल तबदीलियाँ की जा रही हैं, जिसमें सी.सी.टी.वी. लगाने शामिल हैं, जिससे जेलों के अंदर मोबाईल फोनों की तस्करी जैसी घटनाओं को रोकने के लिए पैनी नजऱ रखी जा सके और किसी असुखद घटना को रोका जा सके। स. रंधावा ने कहा, ‘‘किसी भी हालात में जेलों के माहौल को विगाडऩे की आज्ञा नहीं दी जाएगी और गैंगस्टरवाद के मामलो में ज़ीरो सहनशीलता नीति की पालना की जाएगी।’’
ए.डी.जी.पी. (जेलें) श्री प्रवीन कुमार सिन्हा ने मंत्री को बताया कि सहायक सुपरीटेंडैंट के तौर पर चुने गए 43 उम्मीदवारों में आज जिन उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र दिए गए, उनमें जसकिन्दर सिंह, अकाशदीप बतरा, प्रभदयाल सिंह और समनदीप कौर शामिल हैं। उन्होंने यह भी कहा कि उम्मीदवार 6 महीनों के लिए पटियाला के पंजाब जेल प्रशिक्षण स्कूल में शुरुआती प्रशिक्षण हासिल करने के उपरांत प्रैक्टिकल प्रशिक्षण हासिल करेंगे।
इस मौके पर अन्यों के अलावा प्रमुख सचिव जेलें डी.के. तिवाड़ी और आई.जी. (जेलें) आर.के. अरोड़ा मौजूद थे।

Related posts

punjab

ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਦਫਤਰ, ਪੰਜਾਬ ਫਿਰਕਾਪ੍ਰਸਤੀ ਨੂੰ ਤੂਲ ਦੇਣ ਦੇ ਕੋਝੇ ਯਤਨ ਤਹਾਨੂੰ ਪੁੱਠੇ ਪੈਣਗੇ-ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਨੇ ਮਲੇਰਕੋਟਲਾ ਬਾਰੇ ਟਿੱਪਣੀਆਂ ਲਈ ਭਾਜਪਾ ਨੂੰ ਕੀਤੀ ਤਾੜਨਾ ਯੋਗੀ ਦੀਆਂ ਟਿੱਪਣੀਆਂ ਨੂੰ ਤੋਤੇ ਵਾਂਗ ਰਟਣ ਲਈ ਭਾਜਪਾ ਨੇਤਾਵਾਂ ਦੀ ਸਖਤ ਆਲੋਚਨਾ, ਯੋਗੀ ਖੁਦ ਆਪਣੇ ਸੂਬੇ ਨੂੰ ਤਬਾਹ ਕਰਨ ਲਈ ਪੱਬਾਂ ਭਾਰ ਭਾਜਪਾ ਨੇਤਾਵਾਂ ਨੂੰ ਪੰਜਾਬ ਅਤੇ ਮਲੇਰਕੋਟਲਾ ਦੇ ਇਤਿਹਾਸ ਪੜਨ ਲਈ ਆਖਿਆ, ਇਤਿਹਾਸਕ ਕਿਤਾਬਾਂ ਭੇਜਣ ਦੀ ਵੀ ਕੀਤੀ ਪੇਸ਼ਕਸ਼ 

Leave a Reply

Required fields are marked *