Friday , April 3 2020
Breaking News

किन्नर समाज की अनोखी पहल…लड़कियों को बचाने के लिए आगे आ रहे हैं

भवानीगढ़ आज के इस युग में जहां कुछ लोग लड़कियों को पैदा होने से पहले ही गर्व में लगातार कत्ल कर रहे हैं भले ही राज्य सरकार ने लड़कियों को गर्व में मारने के के लिए कड़े कानून बना रखे हैं लेकिन इसके बावजूद भी यह धंधा चोरी-छिपे चल रहा है लेकिन आज के इस युग में कुछ ऐसे लोग भी हैं जो लड़कियों को बचाने के लिए आगे आ रहे हैं इनमें ऐसा ही एक नेक काम किन्नर समाज के अंजली नाम के किन्नर ने एक डेढ़ महीने की बच्ची को गोद लेकर ना ही उसका पालन-पोषण शुरू कर दिया है बल्कि उसकी पहली लोहड़ी इतनी धूमधाम से मना कर समाज के उन लोगों के मुंह पर तमाचा जड़ा है जो लड़कियों को दुनिया में आने से पहले ही कत्ल कर देते हम बात कर रहे हैं किन्नर समाज की जब किसी के घर लड़की पैदा होती थी तो यह समाज दुखी हो जाता था और मानू इन को सांप सूंघ जाता था क्योंकि इनको मिलने वाली बधाई खत्म हो जाती थी हैं लेकिन इस समाज ने जो अनोखी पहल की है वह अपने आप में एक मिसाल है ताजा मामला है भवानीगढ़ के पास गांव फगुवाले का जहां पर एक अंजली नाम का किन्नर रहता है उसने बताया कि उसके मन में काफी समय से यह बात घर कर गई थी कि वह कभी ना कभी एक लड़की को गोद लेगा और उसका पालन पोषण उसके मां बाप से भी अच्छा करके दिखाएगा आखिरकार उसने अपना यह सपना कल पूरा कर दिखाया जब एक डेढ़ महीने की बच्ची को उसने गोद ले लिया साथ ही अपने मोहल्ले में लोहड़ी का एक कार्यक्रम रख कर वहां अपने साथी किन्नरों को बुलाया और आसपास के लोगों को बुलाकर खूब खुशी मनाई नाच गाना किया जब इस कार्यक्रम में पहुंचे किन्नर समाज के कुछ किन्नरों से पूछा गया कि आप के दिमाग में बच्ची को गोद लेने की बात कैसे आई तो उन्होंने बताया कि कोई समय था जब हम बचा पैदा होने पर अफसोस बनाते थे सिर्फ लड़कों की ही खुशियां मनाते थे लेकिन जब हमारे सामने ऐसी खबरें आने लगी के लड़कियों को बड़ी तेजी से गर्भ में ही कत्ल किया जा रहा है तो इसे देखकर हमने भी महसूस किया कि जब लड़कियां नहीं होगी तो लड़के कहां से पैदा होंगे इसलिए हमने लड़कियों को बचाने की एक तरह से मुहिम शुरू की है इस बच्ची को गोद लेकर हम बहुत खुश हैं ऐसे लग रहा है हमें पूरी दुनिया की खुशियां मिल गई वही कार्यक्रम में पहुंची कुछ महिलाओं ने भी कहा किन्नरों ने बच्ची को गोद लेकर समाज को एक संदेश दिया है और उन लोगों के लिए एक सबक है जो बच्चियों को गर्भ में ही कत्ल करते हैं
कुल मिलाकर आज के इस युग में जहां बच्चियों को मारा जा रहा है वही एक किन्नर द्वारा एक बच्ची को गोद लेना और उसकी धूमधाम से लोहड़ी बनाना इस काम की इलाके में काफी सराहना हो रही है

About admin

Check Also

ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਨੇ ਸੂਬੇ ਵਿੱਚ ਸਾਰੇ ਇਕੱਠਾਂ ‘ਤੇ ਰੋਕ ਲਾਈ, ਨਿਜ਼ਾਮੂਦੀਨ ਤੋਂ ਪਰਤਣ ਵਾਲਿਆਂ ਨੂੰ ਲੱਭ ਕੇ ਟੈਸਟ ਕਰਨ ਅਤੇ 21 ਦਿਨ ਦੇ ਏਕਾਂਤਵਾਸ ਦੇ ਭੇਜਣ ਲਈ ਕਿਹਾ

ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਨੇ ਸੂਬੇ ਵਿੱਚ ਸਾਰੇ ਇਕੱਠਾਂ ‘ਤੇ ਰੋਕ ਲਾਈ, ਨਿਜ਼ਾਮੂਦੀਨ ਤੋਂ ਪਰਤਣ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *