` स्वतंत्र भारत का सबसे काला दिन था आपातकाल : जैन.. – Azad Tv News
Home » Breaking News » स्वतंत्र भारत का सबसे काला दिन था आपातकाल : जैन..

स्वतंत्र भारत का सबसे काला दिन था आपातकाल : जैन..

स्वतंत्र भारत का सबसे काला दिन था आपातकाल : जैन
फोटो 26एसएनपी1 : सोनीपत। आपतकाल के दौरान यातनाएं सहने वालों को सम्मानित करती कैबिनेट मंत्री कविता जैन।
 सोनीपत (संजीव कौशिक ) शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने कहा है कि असंख्य राष्ट्रभक्त लोगों के बलिदान व संघर्ष से मिली आजादी को खत्म करने का काम तत्कालीन प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने 25 जून, 1975 की आधी रात को आपातकाल लागू करके किया था। आपातकाल में दौरान जुल्म और ज्यादतियोंं की पराकाष्ठा की गई। आज हमारे नौजवानों को अपनी जिम्मेदारी के प्रति सतर्क रहना होगा, ताकि लोकतंत्र को सशक्त बना सकें।
सेक्टर 15 स्थित कैंप कार्यालय में आपातकाल के दौरान यातना सह चुके सोनीपत जिले के उन वीरों के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने कहा कि कांगे्रस ने अपनी महत्वाकांशा को प्राथमिकता देने को देश की जनता को आपातकाल में झोंक दिया था। 19 महीने तक देश को विकास की पटरी से उतारने तथा 83 लाख नागरिकों को नसबंदी का शिकार बनाकर लोकतंत्र पर धब्बा लगाने का काम किया गया।
उन्होंने कहा कि लिखने, बोलने व सुनने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था और किसी को अपनी बात कहने का भी हक नहीं था। न अपील की जा सकती थी और न दलिल दी जा सकती थी। चारों ओर आतंक व भय का वातावरण बना दिया गया था। वाट्सएप व ट्वीटर आदि सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात रखने वाला आज का युवा शायद इस बात पर विश्वास न करें कि भारत देश में किसी सरकार ने लोकतंत्र की हत्या करते हुए लोगों की स्वतंत्रता छीन ली थी। लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहे जाने वाले प्रिंट मीडिया के कार्यालयों बिजली के कनैक्शन काट दिये थे, ताकि अखबार प्रकाशित न हो पाएं। भाजपा प्रदेश मीडिया प्रमुख राजीव जैन ने कहा कि इन्दिरा गांधी की जिद और अंहकार के चलते देश के 1 लाख 11 हजार लोगों को आपातकाल की आड़ में जेल में डाल दिया गया। उन्होंने कहा कि 25 जून की पूरी रात जाग कर तत्कालीन प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी ने विपक्ष के बड़े नेताओं को जेल में डलवाया था। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय की मांग है कि देश की नौजवान पीढ़ी लोकतंत्र की रक्षा कर करे और अपने अधिकारों के प्रति जागरूकता रहे, ताकि भविष्य में कोई भी पार्टी अथवा नेता सत्ता के नशे में चूर होकर आपातकाल जैसा निर्णय लेने का साहस न जुटा सकें।
कार्यक्रम के दौरान सोनीपत जिला से आपातकाल में यातनाएं झेलने वाले सुरेश कुमार, नरेंद्र, सुरेश कुमार, तिलकराज, अशोक कुमार, यशपाल, जयपाल सिंह, लोकनाथ, रमेश कुमार, नरेंद्र, अशोक, सतनारायण रोहिल्ला, लेखराज वर्मा, सतीश कुमार, चंद्रभान, राधेश्याम, ज्ञानदेवी के साथ-साथ सतपाल कपूर के लिए उनके दामाद डॉ. दर्शन लाल मल्होत्रा समेत 22 लोगों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर पूर्व विधायक बाबू देवीदास, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. धर्मबीर नांदल, जिला महामंत्री मनोज जैन, गुलशन ठेकेदार, महाबीर गुप्ता, मंडल अध्यक्ष नवीन मंगला, डॉ. संजय सेहरा, मनोज गुप्ता, सूरजमल शर्मा आदि रहे।
——————–
ईद उल्ल फितर पर मांगी शांति और खुशहाली
सोनीपत (संजीव कौशिक )  सोमवार को ईद उल्ल फितर पर हजारों लोगों ने सबकी सलामती की दुआ मांगते हुए एक दूसरे को गले लगाकर ईद की बधाई दी। शहर की ईदगाह बस्ती में इमाम मौलाना मौमिम ने नमाज अता करवाई। इस दौरान लगे मेले में लोगों ने जमकर खरीदारी की तथा मीठी खीर का प्रसाद भी चखा। इस मौके पर राजनेताओं ने कहा कि मुसलमानों के लिए यह सबसे बड़ा पवित्र दिन है तथा इसके लिए एक माह तक रोजे रखकर दुनिया में शांति ओर खुशहाली की दुआ करते हैं। ऐसे में मुस्लमान समाज के योगदान को कम नहीं आंका जा सकता।
मस्जिद में व्यक्ति की हत्या करने पर जताया रोष
फोटो 26 एसएनपी2 : सोनीपत। काली पट्टी बांधकर रोष जताते मुस्लिम समुदाय के लोग।
गोहाना के बरोदा मार्ग स्थित ईदगाह कॉलोनी में रमजान का महीना खत्म होने पर सोमवार को मुस्लिम समुदाय के लोगों ने ईद-उल-फितर का पर्व मनाया। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने गत दिनों रसोई गांव की मस्जिद में हुई समुदाय के एक व्यक्ति की हत्या व अन्य जगहों पर हो रहे अत्याचार के विरोध में काली पट्टी बांध कर नमाज पढ़ी।
मुस्लिम समुदाय से हसनैन रजा, जीसान रजा, तहसीन रजा, शानू, शकील खान, मुस्तकीम, अकरम खान, नसीम खान आदि ने कहा कि 18 जून को गांव रसोई की मस्जिद में रमजान माह में एतकाफ (एकांतवास) कर रहे बढ़मलिक निवासी शब्बीर अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उन्होंने कहा कि बल्लभगढ़ में ट्रेन में पीट-पीट कर 16 वर्षीय बच्चे की हत्या, मऊ में मस्जिद से बाहर निकलते ही गोली मार कर व्यक्ति की हत्या किए जाने की घटना के अलावा आए दिन उनके समाज पर जुर्म बढ़ते जा रहे है। मुस्लिम समाज के लोगों की पाक स्थान मस्जिदों में भी सुरक्षित नहीं है। जगह-जगह समाज के लोगों पर अत्याचार किए जा रहे है। लेकिन प्रशासन भी उनकी सुरक्षा को लेकर गंभीर नहीं हैं। उन्होंने समाज की सुरक्षा को लेकर कड़े प्रबंध करने के साथ अत्याचारों को रोकने की मांग की।
———————-
आपातकाल थोपने के खिलाफ भाजपा ने पुतला फूंका
सोनीपत।संजीव कौशिक, भाजपा गौवंश विकास प्रकोष्ट के निवर्तमान राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य व उतराखंड और हरियाणा के प्रभारी विजय कुमार पुलत्सय के नेतृत्व व नप की वाईस चेयरपर्सन राजेश पांचाल के संयुक्त संयोजन में कांग्रेस पार्टी के शासनकाल वर्ष 1975 में दिवगंत प्रधानमंत्री द्वारा लगाये गये आपातकाल को याद करते हुए कांग्रेस पार्टी का पुतला फूंका और देश की जनता को कांग्रेस पार्टी के लोकतन्त्र विरोधी विचारधारा से सचेत किया। इस दिन को काला दिवस बताते हुए हाथों पर काली पटी बांधकर रोष जताते हुए कहा कि आज ही के दिन कांग्रेस के शासनकाल में लोकतन्त्र की हत्या कर लाखों लोगों को जेल भेज दिया था। इस मौके पर सत्यनारायण पांचाल, नरेश चानना, सुरजभान बामनिया, मोहन पांचाल, आलोक चंद्र पुलस्त्य, दिलबाग, जगदीश, ब्रहमानंद, शियाराम भारद्वाज, केला देवी, रविन्द्र, शमशेर, देवेन्द्र जगबीर, विजय पांचाल, राजबाला, मोनू पांचाल, अंगूरी, राजपति, बीरमति, नीलम देवी और ओमपति आदि मौजूद थे।
———————–
झगड़े में तीन घायल
सोनीपत। गोहाना के महमूदपुर मार्ग पर मामूली काहसुनी के चलते दो प्रवासी मजदूरों के परिवार में झगड़ा हो गया। झगड़े में दोनों ही पक्षों के लोगों ने एक दूसरे पर ईंट, डंडे, लाठियां बरसाई। जिसमें दोनों पक्षों के तीन मजदूर घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए बरोदा रोड स्थित सामान्य अस्पताल ले जाया गया, जहां पर चिकित्सकों ने उन्हें प्राथमिक उपचार देने के बाद गंभीर हालत में गांव खानपुर कलां के बीपीएस राजकीय महिला मेडिकल कॉलेज के अस्पताल रेफर कर दिया। महमूदपुर मार्ग पर निवार फैक्ट्री में काम करने वाले बिहार निवासी दो प्रवासी मजदूर परिवारों में किसी मामूली बात को लेकर कहासुनी हो गई। कहासुनी झगड़े में बदल गई और दोनों पक्ष एक दूसरे पर लाठी, डंडे व ईंट बरसाने लगे। झगड़े में दोनों परिवारों से राजन, सूरज और जयप्रकाश गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस मामले की जांच में जुटी।
———————–
ग्रामीणों ने पावर हाउस पर जड़ा ताला
फोटो 26एसएनपी 3 : सोनीपत। फिरोजपुर बांगर के पॉवर हाउस पर ताला लगाकर नारेबाजी करते ग्रामीण।
सोनीपत, खरखौदा ( संजीव कौशिक) सोमवार को बिजली कटों से आहत होकर फिरोजपुर बांगर गांव के ग्रामीणों ने गांव के पॉवर हाउस पर पहुंचकर अपना रोष व्यक्त किया। जब ग्रामीणों की किसी ने नहीं सुनी तो आहत ग्रामीणों ने पॉवर हाउस पर ताला जड़ दिया। जिसके बाद ग्रामीणों को समझाने पहुंचे जेई कृष्ण कुमार की भी ग्रामीणों ने एक ना सुनी। वहीं ग्रामीण अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को एसडीओ से मुलाकात करेंगे।
गांव फिरोजपुर बांगर के ग्रामीणों ने शेड्यूल के मुताबिक बिजली ना मिलने का आरोप लगाते हुए गांव के पॉवर हाउस पर धावा बोल दिया। महिलाओं को साथ लेकर पहुंचे ग्रामीणों ने पॉवर हाउस पर मौजूद कर्मचारियों को बिजली उपलब्ध ना होने की शिकायत की। कर्मचारियों द्वारा दिए गए स्पष्टïीकरण से ग्रामीण आश्वस्त नहीं हुए और उन्होंने पॉवर हाउस पर ताला जड़ दिया। जिसके बाद ग्रामीण बिजली निगम के खिलाफ नारेबाजी भी करते रहे। सूचना पाकर मौके पर बिजली निगम के जेई कृष्ण पहुंचे और ग्रामीणों को मनाने की कोशिश की। लेकिन ग्रामीणों ने स्पष्टï करते हुए कहा कि वह जेई की बातों पर सहमत नहीं है। मंगलवार को एसडीओ बिजली निगम आकर बिजली कटों को लेकर स्थिति स्पष्टï करें। जिसके बाद ही ग्रामीण करीब डेढ़ घंटे बाद अपने घरों को लौटे।
————————-
झगड़े में तीन घायल
खरखौदा। गांव सिलाना के खेतों में हुई कहासुनी झगड़े में बदल गई। जिसमें तीन लोग घायल हो गए। घायल की शिकायत पर पुलिस ने कई लोगों पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है।
गांव सिलाना निवासी सुरेंद्र का कहना है कि वह स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत है और हाल समय में बिधलान में तैनात है। शनिवार को वह छुट्टी पर था ओर अपने भाई सुरजभान के साथ खेतों में काम कर रहा था। इस दौरान उसका भतीजा सुनील भी अपने खेतों में काम कर रहा था। जिसकी अपने पड़ोसी किसान बलजीत के साथ किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। उसने दोनों का बीच बचाव करते हुए उन्हेंं शांत किया और बलजीत अपने घर चला गया। जिसके बाद वह खेतों में काम कर रहे थे, बलजीत अपने परिवार सदस्यों के साथ फिर से खेत में आ गया। वह कुछ समझ पाते इससे पहले ही उन्होंने लाठी डंडों के साथ उनके ऊपर हमला कर उन्हें बुरी तरह से घायल कर दिया। शिकायत पर मामला दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਵੱਲੋਂ ਜੰਮੂ ਵਿਖੇ ਪੰਜਾਬ ਰੋਡਵੇਜ਼ ਦੀ ਬੱਸ ‘ਤੇ ਗ੍ਰਨੇਡ ਹਮਲੇ ਦੀ ਨਿਖੇਧੀ…

ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਵੱਲੋਂ ਜੰਮੂ ਵਿਖੇ ਪੰਜਾਬ ਰੋਡਵੇਜ਼ ਦੀ ਬੱਸ ‘ਤੇ ਗ੍ਰਨੇਡ ਹਮਲੇ ਦੀ ...

Sucha Singh Gill and Baldev Dhaliwal highlight Challenges face by Farming Communities…

Well known experts of their respective disciplines, Sucha Singh Gill and Baldev Singh Dhaliwal spelled ...