` पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के विजेता 23 खिलाडिय़ों को 15.55 करोड़ रुपए के खेल पुरुस्कार भेंट.. – Azad Tv News
Home » Breaking News » पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के विजेता 23 खिलाडिय़ों को 15.55 करोड़ रुपए के खेल पुरुस्कार भेंट..

पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के विजेता 23 खिलाडिय़ों को 15.55 करोड़ रुपए के खेल पुरुस्कार भेंट..

मुख्यमंत्री कार्यालय, पंजाब
चंडीगढ़, 11 अक्तूबर:
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों-2018 में बढिय़ा कारगुज़ारी दिखाने वाले 23 खिलाडिय़ों को मान्यता देने के लिए 15.55 करोड़ रुपए के राज्य खेल पुरुस्कार भेंट किये गये हैं ।
इस समारोह के अवसर पर प्रसिद्ध एथलीट मिल्खा सिंह भी मुख्यमंत्री के साथ उपस्थित थे। इस मौके पर खिलाडिय़ों को सर्टीफिकेटों के साथ-साथ एक -एक एपल आई फ़ोन भी दिया गया।
इस अवसर पर अपने भाषण में मुख्यमंत्री ने निचले स्तर पर खेल को बढ़ावा देने और विभिन्न पहलकदमियों के द्वारा खेल में नौजवानों को प्रेरित करने के लिए अपनी सरकार की वचनबद्धता दोहराई । उन्होंने भरोसा प्रकट किया कि आगामी ओलंपिक में पंजाब के खिलाड़ी पूरी तरह चमकेंगे क्योंकि राज्य में कौशल की कोई भी कमी नहीं है । उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ओलंपिक में मैडल प्राप्त करने के लिए प्रसिद्ध खिलाडिय़ों की ऊर्जा और कौशल को उचित ढंग के साथ इस्तेमाल करेगी ।
मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित किये गये खिलाडिय़ों में से हिना सिद्धू को 1.75 करोड़ रुपए का इनाम दिया गया । उसने राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में पिस्तौल शूटिंग में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक जीते थे । इसी तरह ही प्रणव चोपड़ा (बैडमिंटन में स्वर्ण पदक जीतने के लिए 75 लाख रुपए), अंजुम मोदगिल (शूटिंग में रजत पदक जीतने के लिए 50 लाख रुपए), नवजीत कौर ढिल्लों ( डिस्कस में कांस्य पदका जीतने के लिए 40 लाख रुपए), विकास ठाकुर (वैट लिफ्टिंग में कांस्य का पदका जीतने के लिए 40 लाख रुपए) को सम्मानित किया गया है। वेटलिफटर प्रभदीप सिंह द्वारा रजत पदक जीतने के लिए 50 लाख रुपए का इनाम उसकी माता ने प्राप्त किया ।
एशियाई खेलों में तजिन्दर पाल सिंह तूर और स्वर्ण सिंह को क्रमवार गोला फेंकने और रोइंग में स्वर्ण पदक जीतने के लिए एक -एक करोड़ रुपए का इनाम दिया गया है । सुखमीत सिंह को रोइंग में स्वर्ण पदक जीतने के लिए एक करोड़ रुपए का इनाम प्राप्त हुआ है जबकि तिहरी छलांग (एथलैटिकस) में स्वर्ण पदक जीतने के लिए अरपिन्दर सिंह को एक करोड़ रुपए का इनाम मिला है । कबड्डी में रजत पदक जीतने के लिए रमनदीप कौर खहरा को 75 लाख रुपए, हॉकी में रजत पदक जीतने के लिए रीना खोखर को 75 लाख रुपए, हॉकी में काँस्य पदक जीतने के लिए रुपिन्दर पाल सिंह को 50 लाख रुपए, हॉकी में रजत पदक जीतने के लिए गुरजीत कौर को 75 लाख रुपए और हॉकी में काँस्य पदक जीतने के लिए अकाशदीप सिंह को 50 लाख रुपए का इनाम मिला है। अकाशदीप सिंह द्वारा यह इनाम उसके पिता ने प्राप्त किया जबकि हॉकी खिलाड़ी मनप्रीत सिंह की तरफ से उसकी माता ने 50 लाख रुपए का इनाम प्राप्त किया ।
जकार्ता एशियाई खेलों में काँस्य पदक जीतने वाले हॉकी खिलाड़ी में शामिल दूसरे खिलाडिय़ों को भी 50 -50 लाख रुपए का इनाम दिया गया जो उनके परिवारिक सदस्यों ने प्राप्त किये है।  यह खिलाड़ी इस समय भारतीय हॉकी के राष्ट्रीय कैंप में हिस्सा ले रहे हैं। हालाँकि उनको ऑनलाइन संदेश भेजा गया था जिसके जवाब में उन्होंने यह इनाम दिए जाने के लिए पंजाब सरकार का धन्यवाद किया है और भरोसा दिलाया है कि वह देश और राज्य के लिए और भी अधिक शौहरत कमाऐंगे । इन खिलाडिय़ों में मनदीप सिंह, हरमनप्रीत सिंह, सिमरनजीत सिंह, कृष्णा बहादुर पाठक और दिलप्रीत सिंह शामिल हैं ।
रोइंग में काँस्य पदक जीतने के लिए भगवान सिंह को 50 लाख रुपए का इनाम दिया गया।
इस खेल समारोह को पंजाब के खेल इतिहास में अहम मौके बताते हुए खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह ने कहा कि पंजाबियों के लिए यह मान वाली बात है कि राज्य की बागडोर इस समय खुद खिलाड़ी रहे कैप्टन अमरिन्दर सिंह के हाथों में है।  उन्होंने कहा कि राज्य ने हाल ही में व्यापक खेल नीति को अमल में लाया है जिससे पंजाब में खेलों को और उत्साह मिलेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने खेलों में शानदार कारगुज़ारी दिखाने वाले खिलाडिय़ों को उनकी योग्यता के मुताबिक सरकारी नौकरियां मुहैया करवाने का भरोसा दिया है । खेल मंत्री ने ऐलान किया कि पंजाब सरकार द्वारा बेहतरीन कोचिंग सहूलतों के साथ-साथ उच्च दर्जे का बुनियादी ढांचा मुहैया करवाया जायेगा जिससे राज्य को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में शिखरों पर ले जाया जा सके ।
खेल मंत्री ने कहा कि पटियाला में खेल यूनिवर्सिटी स्थापित करने के लिए ज़मीन की शिनाखत की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा राज्य के साथ-साथ जि़ला स्तर पर मैराथन का आयोजन करवाया जायेगा। उन्होंने औद्योगिक घरानों को भी खेल और खिलाडिय़ों को अपनाने का न्योता दिया जिससे राज्य में खेल को और ज्यादा मज़बूत किया जा सके ।
इस समारोह में स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, विधायक प्रगट सिंह और पंजाब ओलंपिक एसोसीएशन के प्रधान सुखदेव सिंह ढींडसा भी उपस्थित थे।
इस अवसर पर अदाकार और कॉमेडियन गुरप्रीत घुग्गी ने राज्य में खेल सभ्याचार को बहाल करने के लिए पंजाब सरकार के यत्नों की सराहना की जो पहले देश के अग्रणी खेल राज्यों में शुमार होता था।
 पद्म श्री बहादर सिंह, अर्जुन अवार्डी बलजीत सिंह ढिल्लों, गुरदेव सिंह गिल, जयपाल सिंह और जगजीत सिंह, ओलम्पियन अजीत सिंह, सुखबीर सिंह गिल, पूर्व डी.जी.पी. महल सिंह भुल्लर, पंजाब ओलंपिक ऐसोसीएशन के सचिव जनरल राजा के.एस. सिद्धू और कॉमेडियन कपिल शर्मा भी उपस्थित थे।
 समागम में स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा, राजस्व मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारिया, वन मंत्री साधु सिंह धर्मसोत, पशुपालन मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू, बिजली मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल, संसद मैंबर चौधरी संतोख सिंह, मंडीबोर्ड के चेयरमैन लाल सिंह, विधायक इन्दरबीर सिंह बुलारिया, राज कुमार वेरका, फतेहजंग सिंह बाजवा, कुशलदीप सिंह ढिल्लों, गुरप्रीत सिंह जी.पी., अंगद सिंह सैनी, सुनील दत्ती और हरजोत कमल के अलावा डीजीपी सुरेश अरोड़ा, अतिरिक्त मुख्य सचिव खेल संजय कुमार, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव तेजवीर सिंह और डायरैक्टर खेल अमृत कौर गिल भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪੁਲਿਸ ਸੰਗਰੂਰ ਵੱਲੋਂ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਥਾਵਾਂ ਤੋਂ 7 ਨਸ਼ਾ ਤਸਕਰ ਗ੍ਰਿਫਤਾਰ: ਐਸ.ਐਸ.ਪੀ..

ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪੁਲਿਸ ਸੰਗਰੂਰ ਵੱਲੋਂ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਥਾਵਾਂ ਤੋਂ 7 ਨਸ਼ਾ ਤਸਕਰ ਗ੍ਰਿਫਤਾਰ: ਐਸ.ਐਸ.ਪੀ 8400 ਬੋਤਲਾਂ ਅੰਗਰੇਜ਼ੀ ...

शिव सेना हिंदुस्तान की धार्मिक शाखा श्री राम हनुमान सेवा दल…..

शिव सेना हिंदुस्तान की धार्मिक शाखा श्री राम हनुमान सेवा दल की ओर से प्रत्येक ...